इक पल का जीना ।

मनाली मालरोड की भीड़ से बचने की कोशिश में मैं ऊपर ओल्ड मनाली की तरफ़ पैदल चलने लगा, पहाड़ों में पहुँचते ही मुझे जैसे कुछ हो जाता है मन में अजीब हलचल होने लगती है और उस वक़्त मैं सिर्फ़ पैदल चलना चाहता हुँ, तो मैं साईकिल से उतर कर पैदल चलने लगा, पतली सी सड़क थी मगर...